अजमेर (नागौर) विद्युत वितरण कम्पनी लिमिटेड के कर्मचारी द्वारा भ्रष्टाचार का मामला

Spread the love

अजमेर (नागौर) विद्युत वितरण कम्पनी लिमिटेड के कर्मचारी द्वारा भ्रष्टाचार का मामला

वही के रहने वाले एक सामाजिक कार्यकर्ता का इस पर ध्यान गया के किस तरह से विद्युत विभाग में कर्मचारी अपने पद का गलत स्त्माल कर रहे है | इस पुरे फर्जीवाड़े की जानकारी निकालने के लिए सामाजिक कार्यकर्ता ने RTI लगाई, आरटीआई के ज़रिए हुए ख़ुलासे से सड़क किनारे बिजली पोल की संख्याओं में फ़र्ज़ीवाडा पाया गया व ज़मीन पर ज़्यादा पोल लेकिन काग़ज़ों में कम दिखाए गए | नागौर क्षेत्र में विद्युत विभाग में कर्मचारी अपने पद का गलत स्त्माल कर रहे है और सरकारी संपत्ति का दुरउपयोग भी किया जा रहा है | इसके अलावा नागौर क्षेत्र में घरेलु बिजली खपत के अरबों रुपए भी बाक़ी निकल रहे है जिसे अजमेर विद्युत विभाग वसूल नहीं कर पा रहे है | नागौर क्षेत्र में बोहोत से घरेलु कनेक्शन से ट्यूबवेल भी चलाये जा रहे है | इस पुरे मामले की शिकायत सामाजिक कार्यकर्ता द्वारा विद्युत वितरण कम्पनी के MD को भी कर दी गई है |  MD का कहना है विद्युत कर्मचारियों द्वारा गड़बड़ी तो हुई है और इसकी पूरी जाच की जाएगी |

इस पुरे घोटाले की जानकारी निकालने के लिए सामाजिक कार्यकर्ता ने आरटीआई के माध्यम से यह सुचना हासिल की जिसमे विभाग द्वारा बताया गया के 300 मीटर के दायरे में काम किया गया है जबकि 1500 के दायरे में और वो भी एग्रीकल्चर इलाके में काम किया गया है जिससे फर्जीवाडा दीखता है | जहा आरटीआई के माध्यम से विद्युत विभाग द्वारा बताया गया था के यहाँ 4 पोल लगाए गए है जबकि असल में वहा 6 पोल लगे हुए है जबकि वो एग्रीकल्चर इलाके है और वह घरेलु कनेक्शन नहीं दिए जा सकते | विद्युत नियमो के हिसाब से एग्रीकल्चर इलाके में घरेलु कनेक्शन नहीं दिए जा सकते और वहा पर विद्युत विभाग के कर्मचारियों द्वारा घुस ले कर घरेलु कनेक्शन दिए गए जिससे ट्यूबवेल चलाये जा रहे है |

अधिक जानकारी के लिए विडियो देखे :

नोट : अगर आपकी हमारी इस वेबसाइट से किसी भी तरह से कोई मदद हुई हो तो और आप हमारी मदद करना चाहते है तो आप हमारे PayTM नंबर 9669000188 पर हमे अपनी इच्छा से जितनी चाहे उतनी राशी  भेज सकते है ताकि हम ऐसे और लोगो की मदद कर सके |

(Visited 1,739 times, 1 visits today)