बिजली विभाग के व्यवहार से आहत युवक ने जहर खाकर आत्महत्या की

Spread the love

सिंधाली – शाहजहांपुर, संवाददाता । • शाहजहांपुर जिले के सिंधौली ब्लाक के गांव महाऊ दुर्ग गांव के 32 वर्षीय अवनीश कुमार ने जहर खाकर जान दे दी। परिजनों कहा कहना है कि अवनीश ने खुदकुशी बिजली विभाग के कर्मचारियों के व्यवहार से आहत होकर की है। चाचा की मौत के बाद अवनीश उनके मकान में रहता था, जिसका 60 हजार रुपये बिजली बिल बकाया था। बिजली कर्मचारियों ने अवनीश पर बिजली बिल जमा करने का दबाव बनाया था, न देने पर उन्होंने संपत्ति कुर्क करने की चेतावनी दी थी।

महाऊ दुर्ग गांव के रहने वाले अवनीश कुमार (32) के चाचा रामचंद्र के नाम बिजली का कनेक्शन था, जिस पर लगभग 60000 रुपया बकाया हो गया था। उसके चाचा की मौत पहले ही हो चुकी है। चाचा के कोई न होने की वजह से अवनीश उनके मकान में रहता था। मंगलवार को बिजली विभाग की टीम जेई के साथ महाऊ दुर्ग गांव वसूली और चेकिंग करने गई। गांव के लोगों ने बिजली विभाग की टीम को बताया कि चाचा रामचंद्र के पास ही अवनीश रहता है। टीम ने कहा कि अगर चाचा की मौत हो चुकी है तो पूरा बिल अवनीश को जमा करना चाहिए, बस इसी बात को लेकर टीम ने तीन दिन के अंदर अवनीश की पत्नी पूनम से बिल न जमा करने पर आरसी काटकर कुर्की कराने की बात कही, जब यह बात अवनीश को पता लगी तो उसने बुधवार दोपहर जहरीला पदार्थ खा लिया, इसके बाद उसकी तबीयत बिगड़ी तो परिजन एंबुलेंस से उसे जिला अस्पताल गए, जहां उसकी मौत हो गई। अवनीश के दो बेटे कृष्णा और लक्ष्य हैं। वहीं गांव के लोगों की माने तो अवनीश मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करता था।

bijli-vibhag-bartav-se-ahat-yuvak-ne-kiya-suside

एक्सईएन को नोटिस जारी

सिधौली क्षेत्र के महाऊ दुर्ग मामले में बिजली विभाग के अधीक्षण अभियंता जेपी वर्मा ने संज्ञान लेते हुए पुवायां डिवीजन के एक्सईएन को नोटिस जारी कर रिपोर्ट तलब की है।

तुम्हें मेरी बच्चों की कसम है, तुमने क्या खाया

शाहजहांपुर। सिधौली के महाऊ दुर्ग गांव के अवनीश गुप्ता ने जहर खाकर जान दे दी। मृतक की पूनम ‘देवी फोन कर अपनों को घटना की जानकारी दी। दो बच्चों को सीने से लगाए घूम रही पूनम देवी बोली बिजली विभाग की टीम के हड़काने के बाद से पति परेशान रहने लगे थे। कहते थे बिल नहीं जमा किया तो जेल जाना पड़ेगा। हम बिल कैसे जमा कर पाएंगे। पूनम ने बताया कि बुधवार की दोपहर पति सिधौली गए। वहां नशीला पदार्थ खरीदा, फिर गांव के चौराहा पर नशीला पदार्थ खाकर घर आए। थोड़ी देर बाद पति ने उल्टी की। उनसे पूछा तो उन्होंने कोई बात नहीं बताई। उनकी आंख में आंसू थे। जब पति को जब अपनी व बच्चों की कसम दी, तब पति ने बताया कि हमने जहर खा लिया है।

बिजली विभाग से संबंधित अन्य पोस्ट भी देखें | Also see other posts related to Electricity Department :

उपभोगता जाग्रति और सरक्षण के लिए हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब जरुर करें |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CAPTCHA ImageChange Image