7 हजार की रिश्वत लेते JE व SSO को एंटी करप्शन टीम ने रंगे हाथ दबोच लिया

Spread the love

डुमरियाडीह बिजलीघर पर एंटी करप्शन टीम ने शुक्रवार को मारा छापा, बिजली कनेक्शन के लिए ले रहे थे रुपये

गोण्डा, संवाददाता। बिजली कनेक्शन के लिए रिश्वत लेते बिजली विभाग के जेई व एसएसओ को एंटी करप्शन टीम ने शुक्रवार को रंगे हाथ दबोच लिया। उपभोक्ता की शिकायत पर ट्रैप टीम के प्रभारी धनंजय कुमार की अगुवाई में यह कार्रवाई हुई। दोनों कर्मी उपभोक्ता से सात हजार रुपये की रिश्वत ले रहे थे। आरोपी बिजली कर्मियों के खिलाफ नगर कोतवाली में एंटी करप्शन टीम ने मुकदमा दर्ज कराया है।

वजीरगंज थानाक्षेत्र के धनेसरपुर निवासी धनीराम वर्मा पुत्र रक्षाराम ने बिजली कनेक्शन के लिए आवेदन किया था। बताया जा रहा है कि जरूरी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद डुमरियाडीह बिजलीघर पर तैनात अवर अभियंता कपिलदेव वर्मा व संविदा कर्मी एसएसओ रघुनंदन उर्फ विनायक सिंह ने कनेक्शन देने के लिए आनाकानी कर रहे थे। जब उपभोक्ता धनीराम ने मनुहार की तो उससे रिश्वत मांगी। उपभोक्ता ने घूस देने में असमर्थता जताई तो दोनों पैसे लेने पर अड़ गए। इसके बाद उपभोक्ता ने इसकी शिकायत एंटी करप्शन टीम से की। इस पर एंटी करप्शन अफसरों ने दोनों को पकड़ने के लिए जाल बिछाया गया था।

शुक्रवार को अफसरों के निर्देश पर कलेक्ट्रेट से प्रशासनिक अधिकारी मोहम्मद नईम और संदीप तिवारी को लेकर टीम डुमरियाडीह पहुंची। इसी दौरान उपभोक्ता सात हजार रुपये लेकर बिजलीघर पहुंचा और उसने जेई व एसएसओ को सात हजार रुपये थमा दिए। इसके बाद टैप टीम ने जेई व एसएसओ को रंगे हाथ दबोच लिया। इसके बाद टीम दोनों को पकड़कर नगर कोतवाली कोतवाली ले आई। पुलिस ने बताया कि जेई कपिल देव वर्मा पुत्र सभादीन वर्मा ग्राम बसंती का पुरा पोस्ट जानाबाजार हैदरगंज अयोध्या और संविदा कर्मी रघुनंदन उर्फ विनायक सिंह पुत्र कमलदेव सिंह ग्राम मजगवां थाना वजीरगंज का निवासी है। ट्रैप टीम में निरीक्षक ज्ञानेंद्र सिंह और कुशलवीर सिंह भी शामिल रहे। उधर, इस संबंध में बिजली विभाग के अधीक्षण अभियंता आशीष सिन्हा ने बताया कि अवर अभियंता और संविदाकर्मी को पकड़े जाने की जानकारी मिली है। पूरे मामले की जांच अधिशासी अभियंता से कराकर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। रिश्वतखोरी पर विभाग के अफसर नजर रखे हुए हैं।

कलंक के खिलाफ –

  • उपभोक्ता की शिकायत पर एंटी करप्शन टीम ने की कार्रवाई
  • नगर कोतवाली में दोनों कर्मचारियों पर दर्ज

शुक्रवार को रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार जेई और एसएसओ

bijli vibhag ki anti corruption me complaint kaise kare

यह लोग भी रिश्वत लेते पकड़े गए थे

  • इटियाथोक कस्बे में बिजली कनेक्शन के लिए दस हजार रुपये की रिश्वत लेते मेहनौन के जेई संतोष मंडल सितंबर 2023 में गिरफ्तार हुए थे।
  • सदर तहसील के लेखपाल बैकुंठनाथ तिवारी को 10 हजार की रिश्वत लेते अगस्त 2023 में तहसील परिसर से रंगे हाथ पकड़ा था।
  • बड़गांव डाकघर के पोस्टमास्टर राजाराम यादव को सीबीआई की टीम ने 12500 रुपये की रिश्वत लेते हुए जुलाई 2023 में धर दबोचा था।
  • तरबगंज तहसील में तहसीलदार पेशकार संतोष रावत को एंटी करप्शन टीम ने पांच हजार रुपये लेते हुए मार्च 2023 में पकड़ा था।

एंटी करप्शन टीम ने बिजली विभाग के दो कर्मियों को रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया है। दोनों के खिलाफ नगर कोतवाली में केस दर्ज कराकर विधिक कार्यवाही की जा रही है। विनीत जायसवाल, एसपी गोण्डा.

बिजली विभाग से संबंधित अन्य पोस्ट भी देखें | Also see other posts related to Electricity Department :

उपभोगता जाग्रति और सरक्षण के लिए हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब जरुर करें |

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CAPTCHA ImageChange Image