बिजली विभाग में RTI कैसे लगाएं | Bijli Vibhag me RTI kaise lagaye

Spread the love

इस आर्टिकल में हम आपको बिजली विभाग में RTI कैसे लगाएं (Bijli Vibhag me RTI kaise lagaye) उसके बारे में बताने वाले है | RTI का पूर्ण प्रपत्र मतलब “सुचना का अधिकार (Right To Information)” ये कानून हमारे देश में 2005 में लागु हुआ था | जिसका उपयोग कर के आप सरकार या सरकार के किसी भी विभाग से सुचना मांग सकते है | यह कानून आम आदमी को मजबूत करने के लिए बनाया गया है | अगर आपको लगता है की सरकार के किसी काम में किसी तरह की कोई गड़बड़ी है तो उसके लिए भी सरकार के सम्बंधित विभाग में RTI लगा कर जानकारी मांग सकते है | इसकी ममद से आप अपने घर के आस पास हो रहे नगर निगम के कामो का भी हिसाब माग सकते है | आम आदमी जो टैक्स भरता है सरकार उसी पैसे को देश के विकास में लगाती है इसी लिए हर एक आम आदमी के पास इतना अधिकार है की वो सरकार से किसी भी काम का हिसाब ले सकता है |

बिजली विभाग में RTI कैसे लगाएं | Bijli Vibhag me RTI kaise lagaye

bijli vibhag me rti kaise lagaye

RTI सम्बंधित कुछ जरुरी बाते :-

RTI की मदद से आप सरकार से कोई भी सवाल पूछ सकते है या जानकारी मान सकते है |
RTI की मदद से आप सरकार से किसी भी दस्तावेज की प्रमाणित कॉपी ले सकते है |
RTI की मदद से आप सरकार के किसी भी दस्तावेज की जांच कर सकते है |
RTI की मदद से आप सरकार के किसी भी कामकाज का निरिक्षण कर सकते है |
RTI की मदद से आप किसी भी सरकारी कामकाज में इस्तेमाल सामग्री का नमूना ले सकते है |

RTI में कितनी धारा होती है :

धारा 6(1) – RTI का आवेदन लिखने की धरा है
धारा 6(3) – अगर आपका आवेदन गलत विभाग में चला गया है तो इसको 6(3) धारा के अंतर्गत सही विभाग में 5 दिन के अन्दर भेज देगा |
धारा 7(5) – इस धारा के अनुसार BPL कार्ड वालो को कोई शुल्क नहीं देना होता है |
धारा 7(6) – इस धारा के अनुसार अगर RTI का जवाब 30 दिन में नहीं आता है तो सुचना निशुल्क दी जाएगी |
धारा 18 – अगर कोई अधिकारी जवाब नहीं देता है तो उसकी शिकायत सुचना अधिकारी को दी जाए |
धारा 8 – इसके अनुसार वो सुचना RTI में नहीं दी जाएगी जो देश की अखंडता और सुरक्षा के लिए खतरा हो या विभाग की आंतरिक जांच को प्रभावित करती हो |
धारा 19(1) – अगर आपकी RTI का जवाब 30 दिन में नहीं आता है तो इस धारा के अनुसार आप प्रथम अपील अधिकारी को प्रथम अपील कर सकते है |
धारा 19(3) – अगर आपकी प्रथम अपील का भी जवाब नहीं आता है तो आप इस धारा की मदद से 90 दिन के अंदर दूसरी अपील अधिकारी को अपील कर सकते है |

RTI लगाने में कितना शुल्क देना होता है (RTI Charges)

RTI (सुचना का अधिकार) का आवेदन करने के लिए Rs.10 का शुल्क देना होता है | अगर आप Online आवेदन करते है तो आप अपने किसी भी क्रेडिट या डेबिट कार्ड से भगतान कर सकते है और अगर आप पेपर पर लिख कर या प्रिंट कर के सम्बंधित विभाग में दे रहे है तो आवेदन के साथ आपको Rs.10 का भारतीय डाक घर का पोस्टल आर्डर या Rs.10 का स्टाम्प पीछे सलग्न करना होगा व उसका क्रमांक RTI आवेदन पत्र में भी लिखना होगा |

अगर आप गरीबी रेखा के अंतर्गत आते है या BPL कार्ड धारक है तो आपको कोई शुल्क नहीं देना है बस आपको अपने गरीबी रेखा कार्ड या BPL कार्ड की फोटो कॉपी RTI आवेदन पत्र के पीछे सलग्न करना होगा व उसका क्रमांक RTI आवेदन पत्र में भी लिखना होगा |

RTI केसे लिखे (How to write RTI) :-

RTI आवेदन करना बोहोत ही आसन है और इसके आवेदन के लिए आप एक सादे पेपर पर उपर से थोड़ी जगह छोड़ कर निचे दिए गए प्रारूप के हिसाब से अपनी जानकारी भरे :-

1.सुचना का अधिकार 2005 की धारा 6(1) के अंतर्गत आवेदन |
2.आवेदक का पूरा नाम :
3.आवेदक का पूरा पता : (जिस पर जानकारी प्रेषित की जानी है)
4.दूरभाष क्रमांक : (टेलीफोन या मोबाइल नंबर)
5.दिनांक : (आवेदन देने की दिनांक)
6.कार्यालय का नाम/विभाग/पता : (सम्बंधित कार्यालय का नाम व पता जहा से जानकारी प्राप्त करना है)
7.चाहि गई जानकारी का विवरण : (जो जानकारी चाहिए अगर वो 2-3 लाइन नहीं में लिख सकते है तो यहाँ लिखे और अगर ज्यादा बिंदु है तो तो एक अलग पेपर पैर लिख कर यहाँ पैर “प्रति सलग्न” लिख कर RTI आवेदन पत्र के पीछे सलग्न कर दीजिये”)
8.क्या चाहते है नक़ल/निरिक्षण/रिकॉर्ड निरिक्षण/रिकॉर्ड की प्रमाणित प्रति/प्रमाणित नमूना :
9.आवेदन के साथ अदा किये जाने वाले प्रोसेस फ़ीस-रुपये 10/नगद/भारतीय पोस्टल आर्डर/स्टाम्प/आदि का क्रमांक : (BPL कार्ड धारक को शुल्क देय नहीं,BPL कार्ड का क्रमांक लिखे व BPL कार्ड की फोटोकॉपी RTI आवेदन पत्र के पीछे सलग्न करे)

थोड़ी सी जगह छोड़ कर “हस्ताक्षर/आवेदनकर्ता” लिख कर हस्ताक्षर कर दे |

प्रति पृष्ठ आरटीआई शुल्क कितना देना होता है (How much is the RTI fee per page) :

RTI के माध्यम से मांगी गई जानकारी में सम्बंधित विभाग द्वारा जितनी भी प्रति (Photo Copy) दी जाएँगी उसके लिए Rs.2 प्रति कॉपी के हिसाब से शुल्क देना होगा, जिसके लिए सम्बंधित विभाग द्वारा आपको सुचना दी जाएगी और उस रकम को आपको सम्बंधित विभाग में जमा कर रसीद देना होगी | RTI के माध्यम से मांगी गई जानकारी में सम्बंधित विभाग में कैसे जमा करते है उसकी सम्पूर्ण जानकारी आपको इस लिंक पर क्लिक कर के मिल जाएगी |

RTI का जवाब कितने दिन में मिल जाता है ?

RTI के माध्यम से मांगी गई जानकारी में सम्बंधित विभाग RTI आवेदन फॉर्म जमा करने की दिनांक से 30 दिन के भीतर आवेदन करता को देना होता है जिसके लिए सम्बंधित विभाग द्वारा मांगी गई जानकारी जितने प्रष्ट में होगी उसके लिए Rs.2 प्रति कॉपी के हिसाब से शुल्क दे कर प्राप्त कर सकते है |

RTI आवेदन करने पर जवाब ना मिले तो क्या करना होगा ?

RTI के माध्यम से मांगी गई जानकारी को सम्बंधित विभाग को फॉर्म जमा करने की दिनांक से 30 दिन के भीतर आवेदन करता को देना होता है, पर अगर 30 दिन बाद भी अगर सम्बंधित विभाग से कोई जानकारी नहीं मिलती है तो उसके लिए हमें उसे द्वतीय अपील करना होती है जिसके बाद 45 दिन में जवाब देना ही होगा और RTI द्वारा मांगी गई जानकारी के लिए दिए जाने वाले  Rs.2 प्रति कॉपी के हिसाब से शुल्क भी नहीं देना पड़ेगा | द्वतीय अपील करने के बाद भी अगर सम्बंधित विभाग से जानकारी नहीं मिलती है तो फिर हमें राज्य सुचना आयोग में तृतीय अपील करना होती है | द्वतीय अपील और तृतीय अपील कैसे की जाती है उसके लिए आप इस लिंक पर क्लिक कर के सम्पूर्ण जानकारी ले सकते है |

अधिक जानकारी के लिए RTI फॉर्म का प्रारूप देखिये (RTI Application Format) :

rti application format

अधिक जानकारी के लिए RTI पर हमारा विडियो देखे (Bijli Vibhag me RTI kaise lagaye) :

FAQ :

Q1.आरटीआई लगाने में कितना खर्च आता है ?
Answer : RTI मतलब सुचना का अधिकार (Right To Information) के तहत जानकारी लेने के लिए RTI आवेदन फॉर्म के Rs10 शुल्क देना होता है जिसके लिए Rs10 का स्टाम्प पेपर, पोस्टल आर्डर साथ में सलग्न करना होता है और उसका सीरियल नंबर RTI आवेदन फॉर्म में दर्शाना पड़ता है जिसका फॉर्मेट आप इसी पोस्ट में उपर देख सकते है | गरीबी रेखा या BPL कार्ड धारकों को RTI आवेदन फॉर्म के Rs10 शुल्क नहीं देना होगा बस BPL कार्ड का क्रमांक लिखे व BPL कार्ड की फोटोकॉपी RTI आवेदन पत्र के पीछे सलग्न करे |

Q2. आरटीआई रिपोर्ट कैसे लिखें ?
Answer : RTI आवेदन फॉर्म कैसे लिखा जाता है उसे हम इसी पोस्ट में उपर विस्तृत जानकारी के साथ बता चुके है |

Q3. RTI में हम क्या-क्या पूछ सकते हैं ?
Answer : RTI के माध्यम से आप सरकार या सरकार के किसी भी विभाग से जानकारी मांग सकते है |

Q4. आरटीआई का जवाब कितने दिन में मिल जाता है ?
Answer : RTI आवेदन फॉर्म जमा करने की दिनांक से 30 दिन के भीतर सम्बंधित विभाग द्वारा मांगी गई जानकारी जितने प्रष्ट में होगी उसके लिए Rs.2 प्रति कॉपी के हिसाब से शुल्क दे कर प्राप्त कर सकते है |

Conclusion :

इस आर्टिकल में हम आपको बिजली विभाग में RTI कैसे लगाएं (Bijli Vibhag me RTI kaise lagaye) से संबंधित पूरी जानकारी देने की कोशिश की है जिसे हमारे देश में 2005 में लागु किया गया था | जिसका उपयोग कर के आप सरकार या सरकार के किसी भी विभाग से सुचना मांग सकते है | यह कानून आम आदमी को मजबूत करने के लिए बनाया गया है | अगर आपको लगता है की सरकार के किसी काम में किसी तरह की कोई गड़बड़ी है तो उसके लिए भी सरकार के सम्बंधित विभाग में RTI लगा कर जानकारी मांग सकते है |

बिजली विभाग से संबंधित अन्य पोस्ट भी देखें | Also see other posts related to Electricity Department :

उपभोगता जाग्रति और सरक्षण के लिए हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब जरुर करें |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CAPTCHA ImageChange Image